ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

देश एवं राजनीति

राम मेहर सिंह एशियन गेम्स 2018 में पुरुष कबड्डी टीम को प्रशिक्षित करेंगे

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

१८ अगस्त २०१८

मशहूर कबड्डी कोच और अर्जुन पुरस्कार विजेता राम मेहर सिंह को जकार्ता एशिएन गेम्स 2018 की भारतीय राष्ट्रीय पुरुष कबड्डी टीमको प्रशिक्षण देने की जिम्मेदारीदी गई है। गेम्स की शुरुआत आज होने वाली है। वे इस प्रतिष्ठा वाले खेल में भारतीय टीम के अच्छे प्रदर्शन के लिए जिम्मेदार हैं इसके लिए वे खिलाड़ियों को हरेक मैच के लिए शारीरिक और मानसिक तौर से तैयार करेंगे। कोचिंग की उनकी जोरदार शैली प्रत्येक खिलाड़ी का सर्वश्रेष्ठ बाहर लाती है।


जकार्ता ऐशियन गेम्स में ऐक्शन पैक्ड कबड्डी मैच का आयोजन 19 से 24 अगस्त 2018 के बीच होगा। इसमें कबड्डी की 12 राष्ट्रीय टीमें पुरुषों की श्रेणी में स्वर्ण पदक के लिए मुकाबला करेंगी। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में कबड्डी की भावना के विकास के लिए श्री राम मेहर सिंह की प्रतिबद्धता को मूल्यवान माना गया है। 2002 के एशियन गेम्स के दौरान कबड्डी में उल्लेखनीय प्रदर्शनके लिए उन्हें अर्जुन पुरस्कार दिया गया था। कबड्डी के प्रति उनके समर्पण का सम्मान करते हुए हरियाणा सरकार ने उन्हें प्रतिष्ठा वाले भीम अवार्ड से भी सम्मानित किया था।

कबड्डी के विकास के लिए श्री राम मेहर सिंह अभी भी सक्रिय भूमिका निभाते हैं। एयर फोर्स (वायु सेना) और सर्विसेज टीम की कोचिंग उन्होंने 2004 में शुरू की थी और इसका नतीजा यह हुआ कितीन राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में जीत मिली। वे खिलाड़ियों का चुनाव करने वाली राष्ट्रीय समिति के पैनल में भी हैं। राम मेहर सिंह पटना पायरेट्स के जाने-माने कोच, डिफेंडिंग चैम्पियन और विवो प्रो कबड्डी लीग के एक सफल फ्रैंचाइजी भी हैं। कबड्डी के प्रशंसकों को उन्होंने खूब उत्साहित किया है और अपनीरणनीतिक तथा युक्तिसंगत सोच से खेल में नए आयाम जोड़कर विरोधियों को चकित किया है। राम मेहर सिंह के सीखाए लड़के उनके दिशा-निर्देशन में कबड्डी की प्रतिस्पर्धी भावना को और आगेबढ़ाने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।


जकार्ता गेम्स के लिए भारतीय कबड्डी टीम बेजोड लगती है। इसमें दिग्गज खिलाड़ी है। इनमें डुबकी किंग प्रदीप नरवल, कप्तान अजय ठाकुर, ऋशांक देवडिगा, रोहित कुमार, राहुल चौधरी, गंगाधरीमलेश और मोनू गोयत शामिल हैं जबकि मोहित चिल्लर, राजू लाल चौधरी और गिरीश एरनक तीन अनुभवी डिफेंडर हैं। दीपक हूडा और संदीप नरवल टीम में दो ऑल राउंडर हैं जबकि मनिन्दर सिंहऔर अमित नागर दो स्टैंड बाई खिलाड़ी हैं।


एशियन गेम्स की कबड्डी में भारत का हमेशा प्रभुत्व रहा है और यह 1990 में बीजिंग एशियाई गेम्स की शुरुआत से ही है भारतीय राष्ट्रीय कबड्डी टीम ने 1990 से 2014 तक एशियन गेम्स में सभी सात स्वर्ण जीते हैं। पटना पायरेट्स विवो प्रो कबड्डी लीग की एकमात्र टीम है जिसने लीग में जहां कहीं हिस्सा लिया है लगातार एक सा प्रदर्शन किया है। टीम सभी 5 सीजन में प्ले ऑफ मैच तक पहुंच गई थी और विवोप्रो कबड्डी लीग के सीजन 5, 4 तथा 3 में चैम्पियन का खिताब जीत चुकी है। पीकेएल की डिफेंडिंग चैम्पियन कबड्डी के शौकीनों को सीजन 6 में उत्साहित करने के लिए पूरी तरह तैयार है। इसकीशुरुआत 5 अक्तूबर 2018 से होगी।



जरा ठहरें...
प्रधानमंत्री मोदी बोले, कांग्रेस ने उन्हें 12 सालों तक किया परेशान!
राफेल पर सीता का जवाब, जेटली ने दी शाबासी!
आगस्ता मामला: उलटा चोर कोतवाल को डांटे - कांग्रेस
उत्तर प्रदेश में कोई सुरक्षित नहीं, जंगलराज है - कांग्रेस
संसद शीत सत्र का पहला सप्ताह राफेल के भेंट चढ़ गया
प्रधानमंत्री केएमपी एक्सप्रेस वे का किया उद्घाटन
राफेल के सौदे में प्रधानमंत्री किसी भी प्रोसीजर का फॉलो नहीं किया
नोटबंदी से सिर्फ एक ही परिवार रो रहा है - मोदी
राजमार्गों के निलामी से 10 हजार करोड़ रूपए मिलने की उम्मीद - गड़करी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी कॉल ड्रॉप से हैं परेशान
वॉपकॉस ने 1110 करोड़ रुपये की अब तक सर्वाधिक आय अर्जित की!
भाजपा का 18 राज्यों में शासन, फिर भी एक करोड़ मत घटा
अमित शाह के बेटे के भ्रष्टाचार पर क्यों नहीं बोलते हैं मोदी - राहुल
राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण राजमार्गों पर 'हाईवे नेस्ट' नामक रेस्त्रा का संचालन करेगा
प्रधानमंत्री मोदी जादूगर हैं वे जनता को ट्रिक कर रहे हैं - राहुल गांधी
रेल इंजीनियरिंग की अद्भुत रचना है दुनिया का सबसे ऊंचा पुल
देश की सबसे बड़ी सुरंग देश को समर्पित, प्रधानमंत्री ने किया उद्घाटन
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.